नयी दिल्ली, 26 अगस्त, नससे. कैग की रिपोर्ट को लेकर अरविंद केजरीवाल और उनके सहयोगी प्रधानमंत्री, दस जनपथ, और नितिन गडकरी के आवास पर अपना विरोध प्रदर्शन करना चाह रहे थे. प्रशासन के मना करने के बावजूद भी अरविंद अपने सहयोगी के साथ प्रधानमंत्री और दस जनपथ के बाहर पहुंच गए.

प्रशासन ने केजरीवाल और गोपाल राय को प्रधानमंत्री आवास के बाहर से हिरासत में लिया गया, जबकि मनीष सिसौदिया और और कुमार विश्वास कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास-10 जनपथ के बाहर से हिरासत में लिए गए. प्रधानमंत्री आवास का घेराव करने के लिए अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दुबारा प्रदर्शनकारियों की भीड़ जब अकबर रोड पहुंची, तो उन पर आंसू गैस के गोले छोड़े गए और तेज पानी की बौछार की गई बाद में पुलिस ने वहां लाठीचार्ज भी किया, जिसकी जद में कुछ मीडियाकर्मी भी आ गए. इसके बाद पुलिस ने केजरीवाल को तमाम समर्थकों सहित हिरासत में ले लिया और बस में बिठाकर वहां से उन्हें मंदिर मार्ग थाने ले जाने का प्रयास करने लगी, लेकिन समर्थक बस के आगे लेट गए , जिसके बाद अरविंद केजरीवाल को रिहा कर दिया गया. इसके बाद केजरीवाल ने अपने समर्थकों से कहा कि लक्ष्य पूरा हो गया है, इसलिए अब सभी लोग शांतिपूर्वक लौट जाएं.

 

कोयले के सारे लाइसेंस रद्द किए जाएं-केजरीवाल

जंतर-मंतर पर केजरीवाल ने कोयला घोटाले के संबंध में प्रधानमंत्री से 11 सवाल और गडकरी से 10 सवाल पूछे और कहा कि देश की जनता को इसका जवाब दें. उन्होंने कहा, सारी पार्टियां आपस में मिली हुई हैं और राजनीतिक दल मिलकर देश को लूट रहे हैं. केजरीवाल ने मांग की कि कोयले के सारे लाइसेंस रद्द किए जाएं. उन्होंने कहा, कोयला ब्लॉक आवंटन में प्रति टन के हिसाब से रिश्वत ली गई है, जिसकी रकम सवा लाख करोड़ रुपये तक पहुंचती है. उन्होंने प्रधानमंत्री से सवाल किया कि कोयला सचिव के बार-बार पत्र लिखने के बावजूद किन कारणों से उनकी बात नहीं मानी गई. उन्होंने बीजेपी, सीपीएम, बीजेडी के मुख्यमंत्रियों की गलत सलाह क्यों मानी.

केजरीवाल मंगलवार को भोपाल में गिरफ्तारी देंगे

दिल्ली के बाद अरविन्द केजरीवाल अब अपनी मुहिम मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ छेडेंगे तथा मंगलवार 28 अगस्त को भोपाल में अपनी गिरफ्तारी देंगे1 श्री केजरीवाल ने यहां पार्टी एक बयान में कहा कि वह श्री चौहान के कथित भ्रष्टाचार के विरोध में 28 अगस्त को उनके आवास पर धरना देंगे तथा स्वयं को गिरफ्तारी के लिए पेश करेंगे। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ विरोध व्यक्त कर रहे कार्यकर्ताओं को भोपाल में पुलिस ने पीटा. छह महिलाओं सहित 25 लोग भोपाल के केन्द्रीय जेल में बंद है.

छत्तीसगढ़ में 28 गिरफ्तार

यहां मुख्यमंत्री रमनसिंह का आवास घेरने जाते समय इंडिया अगेंस्ट करप्शन (आईएसी) के 28 कार्यकर्ताओं को आज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. पुलिस अधीक्षक  न को बताया कि आकाशवाणी चौक और मुख्यमंत्री आवास जाने वाले अन्य रास्तों पर 28 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया. इनके खिलाफ प्रतिबन्धात्मक धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.

भूवनेश्वर में 40 गिरफ्तार

भुवनेश्वर. वर्ष 2005 में कोल ब्लाक के आवंटन की प्रतिस्पर्धी नीलामी पर विरोध दर्ज कराने के कारण ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के आवास का आज घेराव करने की कोशिश कर रहे इंडिया अगेन्स्ट करप्शन के 40 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस ने यहां बताया कि इंडिया अगेस्ट करप्शन के कार्यकर्ताओं ने आज मुख्यमंत्री के घर नवीन आवास की घेराबंदी की.

घेराबंदी में शामिल 40 कार्यकर्ताओं को अब तक गिरफ्तार किया गया है. अन्ना हजारे के करीबी सहयोगी अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसौदिया ने गत गुरूवार को ही यहां इस आशय की घोषणा की थी कि कोल ब्लाक के आवंटन में नीलामी प्रक्रिया अपनाने का विरोध करने वाले श्री पटनायक के आवास की आज घेराबंदी की जायेगी.

Related Posts: