कोलकाता, 12 मई, ए. इंडियन प्रीमियर लीग के पांचवे संस्करण में मुंबई ने कोलकाता को 27 रन से हरा दिया. यूसुफ और कैलिस के संघर्ष के बावजूद कोलकाता जीत के लिए 183 रन के लक्ष्य को नहीं प्राप्त कर सकी.

बल्लेबाज रोहित शर्मा के नाबाद 109 रन और गिब्स के नाबाद 66 रन की पारी की बदौलत मुंबई ने 20 ओवर में 182 रन बनाए थे. जिसके जवाब में कोलकाता 4 विकेट के नुकसान पर 155 रन ही बना सकी.  कोलकाता की शुरूआत बेहद खराब रही और गंभीर बिना खाता खोले मुनाफ की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए. इसके बाद बिस्ला भी 1 रन बनाकर ओझा की गेंद पर कैच आउट हुए. तिवारी को 27 रन के योग पर पोलार्ड ने पगबाधा आउट किया. कोलकाता का चौथा विकेट कैलिस के रूप में गिरा. कैलिस ने 79 रन का स्कोर किया. जबकि पठान 40 रन बनाकर नाबाद रहे.  रोहित ने खेली तूफानी पारी-  रोहित ने अपनी तूफानी शतकीय पारी में 60 गेंदों में 5 छक्के और 12 चौके उड़ाए. जबकि गिब्स ने 58 गेंदों में सात चौके और 2 छक्के की मदद से 66 रन बनाए. दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 106 गेंदों में 167 रन की साझेदारी की.  रोहित ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए कोलकाता के खिलाफ 52 गेंदों में 11 चौका और पांच छक्का लगाते हुए अपना आईपीएल का पहला शतक पूरा किया. रोहित ने शुक्ला के एक ओवर में तीन चौके और 1 छक्का सहित 19 रन बटोरे.

रोहित ने यह कारनामा 15वें ओवर मे किया. वहीं ओपनर बल्लेबाज हर्शल गिब्स ने अपना अर्धशतक 47 गेंदों में पूरा किया. इससे पहले मुंबई की शुरूआत खराब रही और सचिन के रूप में टीम को पहला झटका लगा. हसन ने सचिन को 2 रन के निजी योग पर स्टंपर आउट कराया. मुंबई कप्तान हरभजन सिंह ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया.

आईपीएल के खुराफाती दबंग

नई दिल्ली. आईपीएल यह वह क्रिकेट लीग है जहां एक्शन भी है, रोमांच भी है, धमाल भी है, क्लाइमैक्स भी है, सस्पेंस भी है, इंटरटेनमेंट का तड़का भी है और ग्लैमर भी… लेकिन जब एक बालीवुड फिल्म के सभी धमाके यहां मौजूद हैं तो भला बैड ब्वायज यानी खुराफाती दबंग कहां हैं. यहीं हैं जनाब, इनके देश और टीम अगल जरूर हो सकती हैं लेकिन अगर गुस्सा आ जाए तो क्रिकेट के सारे नियम ताक पर रह जाते हैं. अब तक हुए आईपीएल 2012 में जो खिलाड़ी अब तक का सबसे बड़ा खुराफाती दबंग साबित हुआ वह हैं मुंबई इंडियंस के मुनफ पटेल. डेक्कन चार्जर्स के खिलाफ 9 अप्रैल को हुए मुकाबले में जब कुमार संगकारा के विकेट को लेकर अंपायर असमंजस में थे तब यह गेंदबाज सीधे अंपायरों से भिड़ गया जाकर, काफी कुछ उनको सुनाया भी जिसके बाद उन पर जुर्माना भी लगाया गया. यही नहीं 22 अप्रैल को पंजाब के खिलाफ मैच में भी इसी खुराफाती दबंग ने कुछ आपत्तिजनक इशारे करके ना सिर्फ अपनी टीम को शर्मिन्दा किया बल्कि एक बार फिर अपने ऊपर जुर्माना झेला. इसके बाद नंबर आता है हरभजन सिंह का जो इसी किस्से में अपने साथी मुनफ पटेल के साथ दिखे थे. उन्होंने ना सिर्फ मुनफ का साथ दिया बल्कि अंपायर के फैसले पर आपत्ति भी जताई.  पंजाब के खिलाड़ी हरमीत सिंह भी खुराफाती दबंग की इस लिस्ट में बखूबी फिट बैठते हैं. हरमीत ने पुणे वारियर्स के खिलाफ पुणे के सहारा स्टेडियम में गेंदबाजी तो अच्छी की लेकिन जब एक ओवर में दो लगातार बाउंसर गेंद फेंकने वार्निंग का उन्होंने विरोध करते हुए बहाने बनाना शुरू किया तब ना सिर्फ उनका ओवर रद्द किया गया बल्कि आईपीएल के नियमों का उल्लंघन का दोषी पाते हुए चेतावनी भी दे दी गई.

पुणे वारियर्स की बात की जाए तो इस आईपीएल में इस टीम की सबसे बड़ी खोज रहे स्टीवन स्मिथ भी अंपायर से बहस करने के दोषी पाए गए. स्मिथ केकेआर के खिलाफ 5 मई के मैच में सुनील नारायण की गेंद पर एलबीडब्लयू आउट हुए लेकिन बैट का बाहरी किनारा लगने की वजह से वह भी अंपायर का आगबबूला हो गए और उन्हें भी मिली चेतावनी. डेक्कन चार्जर्स के तेज गेंदबाज डेल स्टेन भी तब खुराफाती दबंग बनते दिखे जब उन्होंने मुंबई के ओपनर थिरुमलासेट्टी सुमन को आउट करने के बाद उनको हाथ से डग आउट की तरफ जाने का इशारा कर दिया. इसके लिए उन्हें भी चेतावनी दी गई. मुंबई के रोहित शर्मा ने तो तब हद ही कर दी जब वे बेंगलूर के खिलाफ मैच में अपने ओवर के दौरान क्रिस गेल के तूफान का शिकार बने और इसके बाद उन्होंने अपनी भड़ास विकेट पर लात मारकर निकाली. हालांकि उन्हें चेतावनी देकर छोड़ दिया गया लेकिन इंटरनेश्नल क्रिकेट में यह उन्हें काफी भारी पड़ सकता था.
इसके अलावा भी आईपीएल सीजन-पांच में कई खुराफाती दबंग सामने आए लेकिन टी-20 की अफरातफरी और अपना एक मुकाम बनाने की जद्दोजहद में कभी-कभी खिलाड़ी कई हरकतें करने से बाज नहीं आए. कुछ की गलतियां छोटी रहीं तो कुछ की बड़ी, लेकिन गुस्सा किसी का पीछा नहीं छोड़ सका.

Related Posts: