मुंबई. नवाब की उपाधि मिलने के बाद अब सैफ अली खान मुस्लिम धर्म की महिला से ही शादी कर सकते हैं.  अब आने वाले दिनों में उन्हें अपनी जिंदगी के फैसले को नवाब के हिसाब से लेना होगा इसलिए हो सकता है कि अगले साल करीना के साथ विवाह बंधन में बंधने का फैसला करने वाले सैफ की होने वाली बेगम करीना को अब थोड़ी परेशानियों का सामना करना पड़े. क्योंकि सियासत के नियमों के मुताबिक कोई मुस्लिम महिला ही नवाब की बेगम हो सकती है. इसलिए सालों पहले जब पदौदी यानी की सैफ के पिता ने मशहूर अभिनेत्री शर्मिला टैगोर से शादी की थी तो शर्मिला को भी अपना धर्म परिवर्तन करवाना पड़ा था. और शर्मिला को बेगम आयशा सुल्तान बनना पड़ा था.

Related Posts:

'खाद्य सुरक्षा कानून लागू करना मुश्किल'
सोना 1781 डॉलर के पार
कोयला घोटाला : मनमोहन सिंह को गवाह बनाने की याचिका खारिज
चीन व भारत के बीच डीजीएमओ स्तर की वार्ता जल्दी बनेगी हकीकत : पर्रिकर
रेल बजट बना इतिहास, आम बजट में विलय, बजट 31 मार्च से पहले होगा पारित
पीएसएलवी-सी 35 का प्रक्षेपण सफल, स्कैटसैट-1 अपनी कक्षा में स्थापित