चुनाव करने में बहुत सावधानी बरतती हैं फिर चाहे वह उनकी पोशाकों का चयन हो या किसी नई फिल्म में अभिनय करने की स्वीकृति की बात हो.

नेहा ने कहा कि मैं बहुत सोच-समझकर चुनाव करती हूं. चाहे वह खान-पान का चुनाव हो, चाहे फिल्मों या काम का. मैं पूरा समय लेती हूं और फिर निर्णय करती हूं कि क्या करना है. अपनी मां के साथ मदर्स डे के एक कार्यक्रम में शिरकत करने आईं नेहा ने कहा कि उनकी मां उनकी सबसे बड़ी आलोचक हैं लेकिन वह किसी फिल्म में अभिनय की स्वीकृति देने से पहले उनकी सलाह नहीं लेती हैं.

उन्होंने कहा कि मैं मां के साथ काम पर चर्चा करती हूं लेकिन कभी भी नई भूमिका स्वीकार करने से पहले उनकी सलाह नहीं लेती क्योंकि वह इस सम्बंध में कुछ नहीं जानतीं. वैसे वह समझती हैं कि मैं बहुत सोच-समझकर चयन करती हूं और यह बात मेरे काम में भी दिखती है. उन्होंने कहा कि कई जगहों पर कई मुद्दों पर हमारे विचार अलग होते हैं और मैं उन्हें नहीं सुनना चाहती हूं. लेकिन मैं उनका दृष्टिकोण सुनने की कोशिश करती हूं क्योंकि वह मेरी सबसे बड़ी आलोचक हैं. नेहा ने मदर्स डे का दिन अपनी मां के साथ बिताने के लिए काम से छुट्टी ली. साल 2012 में नेहा की आने वाली फिल्मों में मेक्जिमम व रश शामिल हैं.

Related Posts: