औबेदुल्लागंज, 15 दिसंबर. औबेदुल्लागंज में पिछले काफी समय से  सट्टा खाईबाज सक्रिय हैं. जिन्हें पुलिस प्रशासन नहीं रोक पा रहा है.

हफ्ता वसूली खुलेआम चल रही हैं.वार्ड नंबर 14 में वार्ड नंबर-4, वार्ड 13, वार्ड पांच बस स्टैंड मैन चौराहे, अर्जुन नगर, रेलवे गेट के पास सट्टा करोबार जमकर चल रहा है. वहीं क्राइम शाखा ने नगर पंचायत से रिपोर्ट मांगी है कि कौन-कौन सट्टा कारोबार में लगे हैं. बताया जाता है कि जिला प्रशासन ने भी सट्टा खिलाने वाले लोगों की गोपनीय रिपोर्ट मांगी है. बरखेड़ा, तामोट, गौहरगंज, खसरोद आदि जगह भी सट्टा का कारोबार जोरों पर है. वहीं नगर पंचायत में चर्चा है कि सटोरियों के चलते ही परिषद पर आरोप लगते हैं. बहरहाल सट्टा के कारण औबेदुल्लागंज बदनाम होता जा रहा है.

जिला बनाने की मांग को लेकर बैठक

औबेदुल्लागंज, 15 दिसंबर. जिला बनाने की मांग को लेकर  बैठक हुई. 11 नवंबर को श्रीराम मंदिर में जिला बनाने के लिये एक कौर कमेटी बनाने का प्रस्ताव हुआ था. जिला बनाओ कमेटी में साफ-सुथरी छबि के लोगों को लेने की बात हुई . कौर कमेटी में ऐसे प्रभावशाली लोगों को जोडऩे के लिये सहमति बनी जो लोग एक-एक क्षेत्र में प्रभाव रखते हों. बक्तरा, शाहगंज, डोबी, बुधनी, रेहटी, नसरुल्लागंज, गोपालगंज, बाड़ी में जाकर प्रचार करें. औबेदुल्लागंज जिला बनाओ के लिये समर्थन जुटायें. जिला बनाने में योगदान देने के लिये अशोक मित्तल, अशोक शर्मा, त्रिलोचन बिट्टू, संजय ङ्क्षसह, कृष्ण गोपाल पाठक, मनीष गोङशदे, वेदप्रकाश चौरसिया, अवध नारायण दुबे, रेवाशंकर राय, अनिल अरोरा, नीरज चावला, डॉ. कैलाश विनय, अनुराग जैन, विजय जैन, विक्रांत राय, राजेश खटीक आदि ने जिला बनाओ के लिये पूर्ण सहयोग देकर आंदोलन तेज करने की मंशा व्यक्त की है.

Related Posts: