पूना-पटना एक्सप्रेस में हुई वारदात,  लाखों का माल छीनकर भागे लुटेरे

इटारसी 21 दिसम्बर नससे. आज सुबह जब पूना से चलकर पटना की ओर जाने वाली पूना-पटना सुपरफास्ट एक्सप्रेस साढ़े नौ बजे इटारसी जंक्शन पर आई तो उसमें लगे दो जनरल डिब्बों के यात्रियों ने सोचा कि जंक्शन पर कोई गरीब जनता की फरियाद सुनेगा परंतु ऐसा नहीं होने की दशा में इस ट्रेन में सवार यात्रियों ने गाड़ी के चलते ही तीन बार चैन पुलिंग कर अपनी फरियाद सुनने को हंगामा कर इटारसी रेल एवं सुरक्षा प्रशासन को मजबूर कर दिया.

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि जब गाड़ी महाराष्ट के अहमदनगर स्टेशन से रवाना हुई तो कुछ समय पश्चात ही उसमें सवार किन्नरों जिनकी संख्या 6-7 बताई जा रही है ने सभी यात्रियों से 100-100 रूपये देने की मांग की विरोध करने पर इन डकैत रूपी किन्नरों ने यात्रियों को बेल्ट से मारना शुरू कर दिया. कुछ लोगों ने इन्हें आंख दिखाई तो इन्होंने चाकू निकाल कर सभी को भयभीत कर उनके पास से पैसे, घड़ी, जेवर, मोबाईल आदि सामान छीन लिया. कुछ लोगों को लेट्रिन बाथरूम में लेकर उनके कपड़े फाड़ दिये एवं पैसे लूट लिये  यात्रियों ने बताया कि किसी से  500, 1500 तो किसी से 14000 तक की लूट इन बहरूपियों ने की. जब ट्रेन जलगांव और मनमाड़ के बीच अचानक रूकी तो ये लुटेरे ट्रेन से फरार हो गये. घटना में वास्तविक लूट की राशि की जानकारी त्वरित विवेचना दल के इटारसी वापस लौटने पर ही होगी.

आज सुबह जब यात्रियों द्वारा इटारसी जंक्शन पर दो घंटे मचाये हंगामे के बाद रेलयात्रियों को बेहतर सुरक्षा एवं व्यवस्था देने की बात करने वाला जीआरपी एवं आरपीएफ पुलिस प्रशासन हरकत में आया और यह पता लगाने में जुटा की गाड़ी आगे क्यों नहीं चल पा रही है. यात्रियों से उनकी फरियाद सुनने के बाद जीआरपी इटारसी ने उन्हें समझाईश और सांत्वना देने के बाद एक त्वरित विवेचना दल को उनके साथ गाड़ी में खाना दिया. लगभग दो घंटे के हंगामे के बाद 11 बजे गाड़ी अपने गंतव्य की ओर रवाना की गई.

– इनका कहना है-

मेरे साथ किन्नरों ने जबरदस्ती कर पैसे छीन लिये एवं घड़ी मोबाइल एवं लगभग 1400 रूपये नगद राशि लूट ली तथा बाथरूम के पास ले जाकर मारपीट की.

हरेन्द्र, यात्री

जलगांव से लेकर मनमाड़ के बीच कहीं कोई चैन पुलिंग नहीं हुई है रेड सिंग्रल आने पर ट्रेन को रोका गया था.

एमएस अंसारी, ट्रेन गार्ड

Related Posts: