भोपाल,26 अप्रैल, भोपाल के आर.सी.व्ही.पी. नरोन्हा प्रशासन अकादमी में जन-जातीय भाषाओं की वर्तमान स्थिति एवं उनके संरक्षण विषय पर केन्द्रित दो दिवसीय सेमीनार किया जा रहा है. आदिम-जाति कल्याण राज्य मंत्री हरिशंकर खटीक 27 अप्रैल को प्रात: 10 बजे सेमीनार का शुभारंभ करेंगे.

पहले दिन शुभारंभ सत्र के अलावा 3 सत्र होंगे, जिनमें जन-जातीय भाषाओं की स्थिति, जन-जातीय भाषाओं का विकास, जन-जातीय भाषाओं में पारम्परिक ज्ञान और जन-जातीय भाषाएँ और आर्थिक विकास विषयों पर विचार-विमर्श होगा. शुभारंभ सत्र में आदिम-जाति अनुसंधान एवं विकास संस्था (टीआरआई) द्वारा भारतीय भाषा संस्थान मैसूर के पूर्व उप निदेशक प्रो. जगदीश चन्द्र शर्मा द्वारा तैयार कोरकू व्याकरण का लोकार्पण किया जायेगा. दूसरे दिन जन-जातीय भाषाओं के भविष्य पर समूह-चर्चा होगी. महाविद्यालय को तृतीय वर्ष की अनुमति नहीं मिली उच्च शिक्षा विभाग द्वारा अशासकीय हरकचंद चौरडिय़ा स्नातकोत्तर महा विद्यालय, भानपुरा, जिला मंदसौर को सत्र 2012-13 में बी.एससी कम्प्यूटर साइंस तृतीय वर्ष की अनुमति का आवेदन अमान्य कर दिया गया है. निर्धारित तिथि के पश्चात आवेदन जमा करने  कारण अनुमति का प्रकरण अमान्य किया गया है.

Related Posts: