कैनबरा, 21 दिसंबर. टीम इंडिया के तेज गेंदबाज जहीर खान और ईशांत शर्मा ने बुधवार को क्रिकेट आस्ट्रेलिया एकादश के खिलाफ ड्रा हुए अभ्यास मैच में गेंदबाजी करके 26 दिसंबर से आस्ट्रेलिया के खिलाफ शुरू होने वाले पहले मैच के लिए अपनी फिटनेस साबित की.

अध्यक्ष एकादश को जीत के लिए 30 ओवर में 146 रन बनाने थे. उसने दूसरी पारी में बिना किसी नुकसान के 100 रन बनाए. टेस्ट टीम से बाहर किए गए फिलिप ह्यूंज (नाबाद 42) और उस्मान ख्वाजा (नाबाद 56) ने अगले मैचों के लिए चयनकर्ताओं का ध्यान खींचने की कोशिश की. नियमित सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर दूसरी पारी में बल्लेबाजी के लिए नहीं आए. वह पीठ दर्द से परेशान हैं. इससे पहले अध्यक्ष एकादश ने अपनी पहली पारी सात विकेट पर 214 रन पर समाप्त घोषित की जबकि भारतीय टीम ने भी दूसरी पारी दो विकेट पर 90 रन पर घोषित करके मैच को रोचक बना दिया. दोनों टीमों ने तीसरे और आखिरी दिन का खेल शुरू होने से पहले ही फैसला कर लिया था कि खेल जल्दी समाप्त करने के लिए वे दूसरी पारी में 30-30 ओवर ही खेलेंगे. भारतीयों के लिए आखिरी दिन मिश्रित सफलता वाला रहा. सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग (8) लगातार दूसरी पारी में नाकाम रहे लेकिन जहीर और ईशांत की गेंदबाजी देखकर टीम प्रबंधन के चेहरे खिल गए. ईशांत जहां टखने की चोट के कारण अध्यक्ष एकादश के खिलाफ पिछले सप्ताह पहले मैच में 5.3 ओवर करने के बाद आगे गेंदबाजी नहीं कर पाए थे वहीं जहीर ने इस मैच से पहले केवल नेट्स पर ही गेंदबाजी की थी. यह अलग बात है कि इन दोनों ने अपनी सीमाओं के अंदर गेंदबाजी की. ईशांत और जहीर दोनों अपने आगे के पांव में अधिक भार डालने से बचते रहे. इससे पहले सहवाग मैच की दूसरी पारी में भी अच्छा नहीं खेल पाए. भारत ने अपनी यह पारी दो विकेट पर 90 रन बनाकर समाप्त घोषित की. सहवाग मैच के तीसरे ओवर में आउट हो गए. उन्होंने पीटर जार्ज की गेंद पर स्लिप में कैच थमाया. पहली पारी में भी सहवाग 12 रन बनाकर गली क्षेत्र में कैच देकर पवेलियन लौटे थे.

उन्होंने आउट होने से पहले लालोर पर कवर क्षेत्र में दो चौके लगाए थे. अजिंक्या रहाणे भी फिर से प्रभावित नहीं कर पाए तथा 16 गेंद का सामना करने के बावजूद खाता नहीं खोल पाए. उन्होंने जोस लालोर की गेंद पर विकेटकीपर को कैच दिया. बाएं हाथ के बल्लेबाज गौतम गंभीर ने नाबाद 42 रन बनाए लेकिन उनके अधिकतर रन स्पिनरों के खिलाफ बने. जब पहले 14 ओवर तक तेज गेंदबाज लालोर और जार्ज ने जिम्मा संभाल रखा था तब तक गंभीर ने अधिकतर गेंद रक्षात्मक तरीके से खेली थी. गंभीर ने 98 गेंद का सामना करके तीन चौके लगाए. दूसरी तरफ रोहित शर्मा ने 57 गेंद पर नाबाद 38 रन की प्रवाहमय पारी खेली जिसमें चार चौके शामिल हैं. गंभीर और रोहित ने तीसरे विकेट के लिए 76 रन की अटूट साझेदारी की.

Related Posts: