यूपी चुनाव में सियासी सरगर्मी तेज

नई दिल्ली, 25 दिसंबर. उत्तर प्रदेश सहित पांच सूबों में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होते ही सियासी सरगर्मी तेज हो गई है. राजनीतिक विश्लेषकों के मुताबिक उत्तर प्रदेश चुनाव में कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी और समाजवादी पार्टी के अखिलेश यादव की अग्निपरीक्षा होने वाली है. चुनाव का परिणाम ही तय करेगा ये दोनों अपने पार्टी को भविष्य में किस तरह आगे बढ़ाएंगे.

कांग्रेस को आशा है कि राहुल के सहारे वह चुनावी नैया पार करने में सफल होगी. इस चुनाव में प्रमुख रूप से बसपा, सपा, कांग्रेस और भाजपा के बीच कड़ा मुकाबला होने वाला है. विशेषकर राहुल गांधी की कड़ी परीक्षा होने जा रही है. कांग्रेस में कई नेता राहुल गांधी को भविष्य का प्रधानमंत्री घोषित कर चुके हैं. ऐसे में उन्हें यह साबित करना होगा कि वे सच में आम लोगों के नेता हैं. इसी तरह अखिलेश यादव को मुलायम सिंह यादव का वारिस माना जा रहा है. अखिलेश को यह दिखाना होगा कि वे मुलायम की छाया से अलग राजनीतिक प्रभाव रखते हैं. इससे पहले चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश में में सात चरणों में 4 से 28 फरवरी के बीच विधानसभा चुनाव कराने का ऐलान कर दिया. यूपी में मतदान 4 फरवरी, 8, 11, 15, 19, 23 और 28 फरवरी को कराए जाएंगे.

Related Posts: