भोपाल, 10 जुलाई. मध्यप्रदेश में अनेक स्थानों पर बारिश होने से कई शहरों के निचले इलाकों में पानी भर गया है, वहीं मंगलवार सुबह लगभग 10 बजे के बाद बादल छितर गए.

चंबल, कालीसिंध और क्षिप्रा नदियों सहित अनेक छोटी नदियों में पानी का स्तर तेजी से बढ़ रहा है तथा कई बरसाती नाले उफान पर हैं. रतलाम में अनेक घरों में पानी घुस गया. शहर के रेलवे स्टेशन के प्रतीक्षालय में भी पानी भर गया है और रेल पटरियां पर भी पानी बह रहा है. देवास में क्षिप्रा कालीसिंध और लोधरी नदी में पानी का स्तर तेजी से बढ़ रहा है. कुछ बरसाती नालों के उफान पर आने से देवास का कन्नौद और बागली कस्बे से सड़क मार्ग बाधित हो गया है.

चौबीस घंटों में रीवा, जबलपुर, भोपाल, इंदौर, होशंगाबाद, उज्जैन, ग्वालियर और चंबल संभाग में अनेक स्थानों पर एवं शहडोल संभाग में कुछ स्थानों पर वर्षा हुई है. राजधानी भोपाल में भी कल रात जमकर पानी बरसा. और कई निचले इलाकों में पानी भर गया. यहां 8 से.मी. बारिश हुई. पिछले चौबीस घंटों में राज्य में सर्वाधिक 14 से.मी वर्षा नरसिंहगढ में रिकार्ड की गई. इसके साथ ही जीरापुर में 13 से.मी, रायसेन, नरसिंहपुर उज्जैन, खाचरोद ए

Related Posts:

गेहूं खरीदी में गड़बड़ी को लेकर सड़क पर उतरे कांग्रेसी
हर हाल में किसानों की मदद करेंगे फिर पूरी होंगी कर्मचारियों की मांगे
रेल, रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड पर 'ब्रेस्ट फीडिंग' कार्नर स्थापित हो: माया सिंह
ग्वालियर को आज भी इंतजार है विकास की मुहिम के नतीजों का
महिलाओं को आर्थिक रूप से सक्षम और सशक्त बनाने के लिये शासन प्रतिबद्ध
प्रदेश में रोजगार की पढ़ाई, चलें आई.टी.आई. अभियान 3 मई से