मुख्यमंत्री ने जबलपुर को दी कई सौगातें

भोपाल, 13 मई. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि अन्य जिलों के साथ ही जबलपुर जिले में फीडर विभक्तिकरण कार्य तेजी से चल रहा है. वर्ष 2013 से जिले के सभी गाँवों में 24 घंटे बिजली मिलेगी और खेतों में थ्री-फेस बिजली आठ घंटे दी जायेगी. मुख्यमंत्री ने आज जबलपुर जिले के पाटन में क्षेत्रीय विकास के 100 करोड़ से अधिक लागत के विकास कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया.

मुख्यमंत्री ने 91 करोड़ 23 लाख रुपये के जबलपुर-पाटन-शहपुरा राजमार्ग के उन्नयन और 60 लाख की लागत से बनने वाले दीनदयाल स्टेडियम के निर्माण का शिलान्यास किया. मुख्यमंत्री द्वारा जिन कार्यों का लोकार्पण किया गया उनमें 2 करोड़ 64 लाख रुपये के विद्युत फीडर, 5 करोड़ 35 लाख रुपये से निर्मित पाटन-पौड़ी मार्ग, 17 लाख का अग्निशमन वाहन और 75 लाख से भी अधिक लागत के प्री-मैट्रिक अनुसूचित-जाति कन्या छात्रावास भवन शामिल है.
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज उन्होंने पाटन-शहपुरा क्षेत्र की नहरों की स्थिति का अवलोकन किया है. बरगी डेम बने 30 साल से अधिक हो गये हैं, नहरें ऐसी बनी जिनमें पानी ही नहीं आया. उन्होंने कहा कि यहाँ नहरों के अधूरे काम को पूरा करवाया जायेगा. चौहान ने बरगी बाँयी तट नहरों की मरम्मत और सुधार के लिए 226 करोड़ रुपये स्वीकृत करने की घोषणा की. उन्होंने कहा कि नहरों का सुधार-निर्माण का काम युद्ध-स्तर पर किया जायेगा.

चौहान ने कहा कि 31 मई तक समर्थन मूल्य पर गेहूँ की खरीदी की जायेगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि अब बारदाने के बिना भी गेहूँ खरीदा जायेगा. उन्होंने कहा कि राज्य की इस बार की 88 हजार गठानों की माँग के विरुद्ध केन्द्र ने केवल 15 हजार गठानें ही उपलब्ध कराई हैं.
मुख्यमंत्री ने कहा कि लोक सेवकों को अपने कार्य एवं व्यवहार में साफ-सुथरा रखना चाहिये. गलत तरीकों से अर्जित धन को राजसात करने के लिये राज्य शासन ने विशेष न्यायालय गठित किये हैं. घोषणाएँ- मुख्यमंत्री ने पाटन क्षेत्र में स्वास्थ्य केन्द्र भवनों के निर्माण एवं मरम्मत के लिए 4 करोड़ रुपये देने की, मझौली-पाटन के महाविद्यालयों में आगामी शिक्षा सत्र से वाणिज्य और विज्ञान संकाय प्रारंभ करने, पाटन में आई.टी.आई. की स्थापना व पाटन बस स्टेण्ड के लिए आवश्यक राशि देने की घोषणा की.

राहुल और विकास का इलाज होगा- मुख्यमंत्री ने दो रोगी बच्चों के विकास और राहुल का समुचित उपचार करवाने के निर्देश दिये. बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री को अपने आवेदन दिये. मुख्यमंत्री ने लोगों की बातें और समस्याएँ सुनीं. कार्यक्रम में पशुपालन मंत्री जय विश्नोई ने कहा कि क्षेत्र में सड़कों और नहरों के विकास के लिए लगातार काम किया जा रहा है. इस अवसर पर जिला प्रभारी प्रदेश के गृह मंत्री उमाशंकर गुप्ता, पशुपालन मंत्री अजय विश्नोई, नर्मदा घाटी विकास राज्य मंत्री कन्हैयालाल अग्रवाल, सांसद राकेश सिंह, विधायक प्रतिभा सिंह एवं  दशरथ सिंह और पूर्व सांसद पं. रामनरेश त्रिपाठी भी मौजूद थे.

Related Posts: