मुंबई 13 अगस्त. बंबई शेयर बाजार में सुस्त कारोबार के बीच अंतिम दौर में हुई लिवाली से 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 76 अंक की बढ़त के साथ 17,633.45 अंक पर बंद हुआ। यह 15 मार्च के बाद यानी पांच माह का सेंसेक्स का शीर्ष स्तर है.

सुबह के कारोबार में कमजोर खुलने के बाद एक समय सेंसेक्स दिन के निचले स्तर 17,522.10 अंक पर पहुंच गया। हालांकि कारोबारी के अंतिम घंटे में लिवाली का दौर चलने से सेंसेक्स 17,642.38 अंक के उच्च स्तर पर पहुंच गया। अंत में यह 75.71 अंक या 0.43 प्रतिशत की बढ़त के साथ 17,633.45 अंक पर बंद हुआ. इससे पहले 15 मार्च को सेंसेक्स 17,675.85 अंक पर बंद हुआ था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 27.50 अंक या 0.52 प्रतिशत की बढ़त के साथ 5,347.90 अंक पर पहुंच गया। सेंसेक्स की कंपनियों में आवास वित्त कंपनी एचडीएफसी का शेयर 3.71 प्रतिशत चढ़ा. एचडीएफसी बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एलएंडटी, भारती एयरटेल और स्टरलाइट इंडस्ट्रीज में भी अच्छा लाभ दर्ज हुआ। वहीं हिंदुस्तान यूनिलीवर, टाटा मोटर्स, टीसीएस, आईसीआईसीआई बैंक और आईटीसी में नुकसान रहा.

एमसीएक्स स्टाक एक्सचेंज (एमसीएक्स-एसएक्स) ने  कहा कि वह शुक्रवार से डालर-रुपया के डेरिवेटि (वायदा और विकल्प) विकल्प के सौदों का कारोबार संचालित करेगा.
एमसीएक्स-एसएक्स को इसके लिए बाजार नियामक सेबी और रिजर्व बैंक से अनुमति मिल चुकी है। एक्सचेंज ने एक बयान में कहा कि वह डालर-रुपया में मुद्रा विकल्प की पेशकश के साथ विदेशी मुद्रा विनियम दर डेरिवेटिव कारोबार में अपनी सेवाओं का विस्तार करने जा रहा है।

Related Posts: