सीबीआई ने अभा तकनीकी शिक्षा परिषद के प्रोफेसरों के लॉकर खोले

भोपाल, 15 मई नभासं. कालेजों को रिश्वत लेकर मान्यता देने के मामले में सीबीआई की टीम ने मंगलवार को अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद के प्रोफेसरों के बैंक लॉकर खोलकर जमा संपत्ति की जांच की.

मिली जानकारी के मुताबिक सीबीआई द्वïरा पकड़े गए एआईसीटीई के प्रोफेसर योगेश गर्ग के लॉकर की जांच की है. लॉकर खोलने सीबीआई की टीम आज दोपहर मैनिट स्थित स्टेट बैंक आफ इंडिया पहुंची थी. सूत्रों के मुताबिक लॉकर में तीन सोने के हार व अन्य जेवरात मिले हैं. सीबीआई ने इन्हें बरामद कर लिया है. हालांकि इन जेवरों का वैल्यूएशन नहीं हो पाया है. गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ की टीम ने 7 मई को भिलाई में एआईसीटीई के प्रोफेसर संजय सोनी को इंजीनियरिंग कालेज की ओके रिपोर्ट देने के बदले 12 लाख रूपए की रिश्वत लेते एक होटल से पकड़ा था. इस मामले में सीबीआई ने जांच के बाद प्रो. योगेश गर्ग और तत्कालीन एआईसीटीई के रीजनल आफिसर पीएम मिश्रा को भी संदिग्ध मानकर जांच शुरू की है. और भी चपेट में- सीबीआई सूत्रों के मुताबिक इस रिश्वत कांड में कुछ और प्रोफेसरों के बैंक खाते खंगाले जा सकते हैं. सीबीआई यह पता लगा रही है कि प्रोफेसर गर्ग किन बड़े अधिकारियों को रिश्वत देकर कालेजों को मान्यता दिलवाता था. सूत्रों के मुताबिक सीबीआई छग के भी कुछ प्रोफेसरों से पूछताछ कर सकती है.

Related Posts: