बालेश्वर, 10फरवरी.   द्विस्तरीय बैलिस्टिक मिसाइल रक्षा प्रणाली तैनात करने की अपनी योजना के तहत भारत ने शुक्रवार को देश में ही विकसित सुपरसोनिक इंटरसेप्टर मिसाइल का ओडि़शा तट के एकीकृत परीक्षण केंद्र (आईटीआर) से सफल प्रायोगिक परीक्षण किया .

रक्षा सूत्रों ने बताया कि सुबह 10 बजकर 13 मिनट पर सतह से सतह पर मार करने वाली पृथ्वी मिसाइल यहां से 15 किलोमीटर दूर चांदीपुर स्थित आईटीआर के प्रक्षेपण परिसर 3 से उपर उठी . विभिन्न स्थानों पर तैनात लंबी दूरी तक नजर रखने वाले और एक साथ कई कार्यों को अंजाम देने वाले राडार एवं अन्य उपकरणों ने आने वाली मिसाइल की पहचान की . सूत्रों ने बताया कि चांदीपुर से 70 किलोमीटर दूर व्हीलर द्वीप से इंटरसेप्टर मिसाइल को सुबह 10 बजकर 16 मिनट पर दागा गया और इसे हमलावर मिसाइल को निशाना बनाने का निर्देश दिया गया . इंटरसेप्टर मिसाइल का पहला परीक्षण छह मार्च 2011 को किया गया था .

Related Posts: