भोपाल, 19 मई. इमामों व मुअज्जिनों के एक प्रतिनिधिमंडल ने अपनी समस्याओं को लेकर नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री बाबूलाल गौर से मुलाकात की और उन्हें अपनी समस्याओं से अवगत कराया कि सुप्रीम कोर्ट ने दिनांक 13 मई 1993 को एक निर्णय पारित किया गया था जिसके तहत इमामों को रुपये 20,545/- रुपये मासिक वेतन तथा मोअज्जिनों का मासिक वेतनमान रुपये 17,980/- निर्धारित किया गया है और उन्हें विगत 14 सालों का भी एरियर्स के रूप में राशि का भुगतान किये जाने का निर्णय पारित किया गया था जिसको अभी तक लागू नहीं किया गया है. जिससे इमामों व मुअज्जिनों के परिवार की आर्थिक स्थिति दयनीय होती चली जा रही है. जिस पर मंत्री बाबूलाल गौर ने अपने स्तर पर उचित कार्यवाही करने का आश्वासन प्रतिनिधि मंडल को दिया.

अनुदेशक परिवेक्षकों की बैठक 27 मई को
शासकीय औपचारिकेत्तर शिक्षा संघ के प्रांतीय पदाधिकारियों की बैठक 27 मई को प्रांतीय कार्यालय गोविंदपुरा में आयोजित की गई है. बैठक के दौरान संघ की आगामी रणनीति तय की जाएगी. उक्त बैठक को सफल बनाने के लिए संघ के प्रदेशाध्यक्ष डा. रमेश द्विवेदी, रामबिहारी विश्वकर्मा, रामफल सिंह राजपूत, भानूमति तिवारी कालीचरण कु शवाह, देवी सिंह दांगी, हरि बाबु  रघुवंशी राजा राम सेन आदि ने प्रदेश के समस्त पदाधिकारियों से आग्रह किया.

Related Posts: