उज्जैन, 4 दिसम्बर. नससे. रविवार की दोपहर जैसे ही पुलिस लाईन के ऊपर हेलीकॉप्टर मंडराता दिखाई दिया, पहली नजर में ऐसा लगा मानों महाकाल की नगरी में कोई वीआईपी आया होगा. तत्काल कंट्रोल रूम का फोन इस बात के लिए बजने लगा कि कौन वीआईपी शहर में है लेकिन जब हेलीकॉप्टर से एक दूल्हा पुलिस लाईन पर उतरा तो माजरा समझ में आया कि दूल्हा अपनी दुल्हन को लेने हेलीकॉप्टर से आया है.

दूल्हे के पिता की इच्छा थी कि दूल्हा अपनी दुल्हन को लेने हेलीकॉप्टर से जाए और दूल्हे ने अपने पिता की इच्छा पूरी करते हुए हेलीकॉप्टर किराए से लिया और जा पहुंचा उज्जैन अपनी दुल्हन को लेने. कल्याणसिंह तोमर पिता कृष्णपालसिंह (भाजपा मंडल अध्यक्ष) तराना दुल्हन नेहा पुत्री राकेशसिंह भदौरिया का विवाह तय हुआ था. कल्याण के पिता की इच्छी थी कि दूल्हा हेलीकॉप्टर से उज्जैन जाए. रविवार को तराना में बने अस्थायी हेलीपेड से हेलीकॉप्टर दूल्हे कल्याणसिंह को लेकर उज्जैन पुलिस लाईन उतरा जहां लड़कीवालों ने गर्मजोशी से दूल्हे का स्वागत किया. गौरतलब है दूल्हा स्टाम्प वेंडर होकर प्रॉपर्टी ब्रोकर भी है. सोमवार को दुल्हन को विदा भी हेलीकॉप्टर से ही किया जाएगा. गौरतलब है तराना से उज्जैन की दूरी सड़क मार्ग से करीब 40 किमी. है और हेलीकॉप्टर से मात्र 12 मिनिट. बताया जा रहा है कि इस आने-जाने के 24 मिनिट के लिए हेलीकॉप्टर को अच्छाखासा भुगतान किया गया है. वहीं इसे उतारने के लिए बकायदा प्रशासन से अनुमति भी ली गई थी.

Related Posts:

पांच दिनी दीपोत्सव आज से
वरिष्ठजन पंचायत-वृद्धाश्रम के कर्मचारियों का पारिश्रमिक बढ़ा
ओलावृष्टि से फसलें हुई चौपट
श्रद्धालुओं के स्वागत के लिए सिंहस्थ द्वार का कार्य अंतिम चरण में
गुना में बिजली गिरने से एक की मौत, मप्र में कई स्थानों पर आंधी-तूफान
सूखे की स्थिति देख केंद्र सरकार से राहत मांगें मुख्यमंत्री : अजय सिंह