अजलान शाह कप हॉकी टूर्नामेंट

इपोह (मलेशिया), 24 मई, ए. भारत को खिलाडिय़ों के सुस्त और लचर प्रदर्शन के कारण 21वें अजलन शाह कप हॉकी टूर्नामेंट में न्यूजीलैंड की तेजतर्रार टीम के हाथों 1-5 से करारी हार झेलनी पड़ी.

न्यूजीलैंड ने पहले मिनट से ही भारतीय गोल पर हमला बोल दिया था. उसने भारतीय रक्षापंक्ति को तितर बितर करने में कोई कसर नहीं छोड़ी. उसकी तरफ से पांच अलग अलग खिलाडिय़ों ने गोल किए और पिछले साल की जीत को दोहरा दिया. इस तरह से भारत ने टूर्नामेंट की निराशाजनक शुरुआत की. लंदन ओलंपिक खेलों में भारत के साथ एक ही ग्रुप में शामिल न्यूजीलैंड ने अजलन शाह कप 2011 में भारत को 7-3 से हराया था. भारतीय टीम तब सात देशों के टूर्नामेंट में छठे स्थान पर रही थी. न्यूजीलैंड की तरफ से साइमन चाइल्ड (पहले मिनट), एंडी हेवार्ड (34वें मिनट), निक विल्सन (58वें मिनट), स्टीफन जेनेस (61वें मिनट) और मैट लु हुलियर (65वें मिनट) ने गोल किए. न्यूजीलैंड ने ऐसा प्रदर्शन तब किया जबकि कल रात ही उसके एक खिलाड़ी ब्लेयर हिल्टन को अपेनडिक्टिस के आपात आपरेशन के कारण टूर्नामेंट से हटना पड़ा था.

भारत की तरफ से एकमात्र गोल शिवेंद्र सिंह ने छठे मिनट में किया जिससे 34वें मिनट तक दोनों टीमें बराबरी पर रही. न्यूजीलैंड ने पहले मिनट में ही भारतीय रक्षापंक्ति में सेंध लगाई. डिफेंडर संदीप सिंह तब सर्किल के अंदर लंबे शॉट को रोकने में नाकाम रहे. चाइल्ड ने इसका फायदा उठाकर जोरदार शॉट से गेंद गोल के अंदर कर दी. तब दो डिफेंडर और गोलकीपर सर्किल के अंदर थे. भारत ने पांच मिनट बाद बराबरी का गोल दागा जब शिवेंद्र ने बीरेंद्र लाकड़ा के लंबे पास एक डिफेंडर को छकाकर गोल किया. इसके बाद न्यूजीलैंड ने आक्रामक तेवर अपनाए लेकिन गोलकीपर पीआर श्रीजेश ने कई शॉट बचाए. इनमें 16वें मिनट में कीवी टीम को मिले लगातार तीन पेनाल्टी कार्नर भी शामिल हैं. श्रीजेश ने इसके बाद पेनाल्टी कार्नर पर हेवार्ड का शॉट भी बचाया.

भारतीय स्ट्राइकर प्रभाव छोडऩे में नाकाम रहे. वे 23वें मिनट में गोल करने की स्थिति में दिखे. तब शिवेंद्र ने युवराज सिंह को पास दिया था लेकिन वह गेंद पर नियंत्रण नहीं बना पाए. न्यूजीलैंड के हेवार्ड ने 34वें मिनट में टीम को मिले पांचवें पेनाल्टी कार्नर को गोल में बदला. भारत को चार मिनट के अंदर दो पेनाल्टी कार्नर मिले लेकिन वीआर रघुनाथ के शॉट से न्यूजीलैंड के रक्षकों को किसी तरह की दिक्कत नहीं हुई. तब भारत के पेनाल्टी कार्नर विशेषज्ञ संदीप सिंह मैदान पर नहीं थे. न्यूजीलैंड ने आखिरी पंद्रह मिनट में भी हमले जारी रखे और इसका उसे फायदा भी मिला. उसने सात मिनट के अंदर तीन गोल करके भारत की वापसी की उम्मीदों पर पानी फेर दिया. निक विल्सन ने 58वें मिनट में लंबी दूरी से शाट जमाकर गोल किया जबकि जेनेस ने इसके तीन मिनट बाद गोल में करारा शॉट दागा. लिहुलियर ने 61वें मिनट में पेनाल्टी कार्नर पर गोल किया.

Related Posts: