निर्वाचन आयोग पर हमला कांग्रेस की साजिश: सुषमा

बांदा, 17 फरवरी. लोकसभा में प्रतिपक्ष की नेता सुषमा स्वराज ने गुरुवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी मुस्लिमों की विरोधी नहीं है, पर यह भी नहीं चाहती कि भारत व पाकिस्तान के बीच क्रिकेट मैच के दौरान पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए जाएं और वंदेमातरम गाने से इंकार किया जाए.

उत्तर प्रदेश के बांदा स्थित रामलीला मैदान में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए स्वराज ने कांग्रेस पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि सोनिया और राहुल चर्चा में बने रहने के लिए नाटक करते रहते हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस धर्म के आधार पर आरक्षण की बात कहकर देश में विभाजन का बीज बो रही है. बीजेपी मुस्लिम विरोधी नहीं है, पर हम यह भी नहीं चाहते कि भारत व पाकिस्तान के बीच क्रिकेट मैच के दौरान पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए जाएं और वंदेमातरम गाने से इंकार किया जाए. उधर, लोकसभा में विपक्ष की नेता सुषमा स्वराज ने निर्वाचन आयोग पर कांग्रेस के हमले को सुनियोजित साजिश बताते हुए कहा है कि केन्द्रीय कानून मंत्री सलमान खुर्शीद के खिलाफ पहले ही कार्रवाई हो गई होती तो कोई और आगे कुछ कहने की हिम्मत नहीं करता.

स्वराज ने कहा कि खुर्शीद की पत्नी के चुनाव क्षेत्र में प्रचार थमने के पहले तक आयोग पर हमले की जिम्मेवारी कानून मंत्री ने संभाल रखी थी और अब यह जिम्मा केन्द्रीय इस्पात मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा ने ले लिया है. निर्वाचन आयोग के खिलाफ टिप्पणी करने के आरोप में यदि सलमान खुर्शीद के खिलाफ कार्रवाई हो गई होती तो बयानबाजी करने की किसी अन्य केन्द्रीय मंत्री की हिम्मत नहीं पड़ती. उत्तर प्रदेश विधान सभा में भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में लहर होने का दावा करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस मुद्दों से भटक गई है. भाजपा आम आदमी से जुड़कर मंहगाई, भ्रष्टाचार और काले धन के खिलाफ चुनाव मैदान में है.

नहीं की चुनाव आयोग की अवहेलना : बेनी

मुसलिम आरक्षण पर सलमान खुर्शीद के सुर में सुर मिलाने वाले केंद्रीय इस्पात मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा ने सफाई देते हुए कहा है कि उन्होंने जो कहा, वो पार्टी के घोषणापत्र में शामिल है.  यदि इस मामले में निर्वाचन आयोग उन्हें नोटिस देना चाहता है तो उसका स्वागत है. ऐसे ही बयान पर निर्वाचन आयोग ने खुर्शीद को नोटिस देने के साथ राष्ट्रपति के पास शिकायती पत्र भेजा था. खुर्शीद के माफी मांगने के बाद यह मामला खत्म हो गया था. कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने वर्मा का बचाव करते हुए कहा कि फर्रूखाबाद में उनका बयान आदर्श आचार संहिता का उल्लघंन नहीं है. कांग्रेस ने अपने चुनाव घोषणा पत्र में मुसलिमों के आरक्षण का कोटा बढ़ाने का वायदा किया है, इसलिए इसे आचार संहिता का उल्लघंन नहीं माना जा सकता. पार्टी के नेता और केन्द्रीय मंत्री घोषणा पत्र की बात ही मतदाताओं के सामने रख रहे हैं.

Related Posts:

फिर साइको लवर बनेंगे शाहरुख
सिंहस्थ का प्रचार-प्रसार: भोपाल से रामेश्वरम् तक बाइक यात्रा
आतंकियों ने ध्वस्त की थी, बनायेंगे दुनिया की सबसे बड़ी बुद्ध प्रतिमा : राजनाथ
योगी ने मंत्रियों संग ली विधान परिषद की सदस्यता की शपथ
कैलिफोर्निया में लगी आग में 21 की मौत, सैकड़ों लोग लापता
या अल्लाह, हमें गुनाहों से बाहर निकाल