सैफ की मां और अपने जमाने की चर्चित अभिनेत्री शर्मिला टैगोर उर्फ आयशा बेगम ने यहां बातचीत में कहा कि उनके बेटे सैफ और करीना की शादी इस वर्ष अक्टूबर में होगी. एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि भोपाल एवं हरियाणा में शादी का कोई समारोह नहीं होगा और ये कार्यक्रम मुंबई एवं दिल्ली में होंगे.

बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता और नवाब पटौदी सैफ अली खान तथा अभिनेत्री करीना कपूर की शादी इस वर्ष अक्टूबर में होगी तथा इससे जुड़े कार्यक्रम दिल्ली और मुंबई में होंगे.  सैफ की मां और अपने जमाने की चर्चित अभिनेत्री शर्मिला टैगोर उर्फ आयशा बेगम ने यहां बातचीत में कहा कि उनके बेटे सैफ और करीना की शादी इस वर्ष अक्टूबर में होगी. एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि भोपाल एवं हरियाणा में शादी का कोई समारोह नहीं होगा और ये कार्यक्रम मुंबई एवं दिल्ली में होंगे. शादी की तैयारी शुरू कर दी गई है.

औकाफ-ए-शाही के संचालन के लिए बनाई गई कमेटी की एक बैठक के बाद पूर्व नवाब पटौदी स्वर्गीय मंसूर अली खान की पत्नी आयशा उर्फ शर्मिला ने घोषणा की कि कि मक्का शरीफ की रूबात में अब भोपाल निवासी फहीम रिजवी को नाजिर का ओहदा दिया गया है, जो औकाफ-ए-शाही की मुतवल्ली एवं उनकी बेटी सबा अली खान को सहयोग करेंगे.

शर्मिला ने कहा कि पूर्व रियासत भोपाल के सभी हाजियों को अगले साल से रूबात में ठहरने की जगह मिलेगी, क्योंकि एक और रूबात खरीदने की तैयारी औकाफ-ए-शाही ने की है. इस बैठक की अध्यक्षता शर्मिला ने ही की. बैठक में प्रमुख मुद्दा यही था कि शहर काजी सहित सभी लोगों ने रूबात का नाजिर किसी भोपाल निवासी को बनाने की मांग की थी. सउदी कानून के मुताबिक नाजिर का पद सिर्फ मुतवल्ली को दिया जा सकता है, इसलिए रिजवी इंतजाम के लिए नियुक्त किए गए हैं. बैठक में यह भी बताया गया कि सउदी सरकार ने एक रूबात अधिग्रहीत कर उसका मुआवजा लगभग 470 लाख रियाल औकाफ-ए-शाही को दिया है, जो सुरक्षित है.

जबकि इस साल होने वाले हज के बाद मौजूदा रूबात का अधिग्रहण भी हो जाएगा. दोनो रूबात का मुआवजा इतना होगा कि एक ऐसी रूबात खरीदी जा सकती है, जिसमें लगभग एक हजार हाजियों को सुविधाएं दी जा सकें. इसके अलावा औकाफ-ए-शाही रमजान के दौरान होने वाले उमरा में भी लोगों को रूबात की सुविधा देने पर विचार कर रहा है. इस बारे में कमेटी का गठन हो चुका है

Related Posts: